मिलती – जुलती रचनाये भाग -01

क्रम संख्या मिलती – जुलती के रचनाओं का प्रथम शब्द

1. विलास

2. इश्क

3. हंस

4. रामायण

5. चरित्र

6. रामायण

7. लहरी

8. ज्ञान

9. वाणी

10. युग

11. नल दमयन्ती

1. विलासः-

• पुरूष विलास – मलूकदास

• सुन्दर विलास – सुन्दरदास

• अवध विलास – लालदास

• ब्रज विलास – ब्रजवासी दास

• रस विलास – चिन्तामणि त्रिपाठी

• भाव विलास(प्रथम रचना) – देव

• भवानी विलास – देव

• कुशल विलास – देव

• जाति विलास – देव

• रस विलास – देव

• जुगल विलास – रामसिंह

• हरिमानस विलास – चन्द्रशेखर वाजपेयी

• आनन्द विलास – जसन्वत सिंह

• वासा विलास – बैजनाथ द्विवेदी

• श्रृंगार विलास – प्रताप नारायण मिश्र

• महेश्वर विलास – लछिराम

2. इश्कः

 

• इश्कनामा – बोधा

• इश्क लहर – ग्वाल

• इश्कलता – घनानन्द

• इक निगाह – लोचन प्रसाद पाण्डेय

 

3. हंस :-

 

• हंसावली (1370ई.) – असाइत

(हिन्दी प्रेमाख्यान परम्परा की प्रथम रचना)

• हंसजवाहिर(भाषा – अवधी) – कासिमशाह

• हंस प्रबोध ग्रथं – हरिदास निरंजनी

 

4. रामायण:-

 

• बरवै रामायण – तुलसीदास

• मध्यात्म रामायण – माधवदास चारण

• रामायण महानाटक – प्राणचन्द्र चौहान

• पौरूषेय रामायण – नरहरि बारहठ

• रामायण – कपूरचन्द खत्री

(गुरूमुखी लिपि,1646ई.,45छन्द ,ब्रजभाषा मंे)

• गोविन्द रामायण – गुरू गोविन्द सिंह

• कृष्ण रामायण – घनारंग दूबे

• श्री ललित रामायण – हरिनाथ पाठक

 

5. चरित्र:-

 

• बल चरित्र – मुकुंद सिंह

• ध्रुव चरित – परमानंददास

• सुदामा चरित – नन्ददास

• प्रदयुम्न चरित – सुधारू अग्रवाल

• प्रहलाद चरित – परशुराम

• सुदामा चरित्र,ध्रुव चरित्र – नरोत्तमदास

• सुदामा चरित – हलधरदास

• पंचपाड़य चरितरास – शालिभद्र सुरि

• कृष्ण चरित्र – ठाकुर सी

• कृष्ण चरित्र – चिंतामणि त्रिपाठी

• कलि चरित्र – बॉन

• देव चरित्र – देव

• पुष्प चरित्र – ओम प्रभाकर

 

6. लहरी:-

 

• साहित्य लहरी – सूरदास

• माधुर्य लहरी – कृष्णदास

• लालित्य लहरी – बद्रीनारायण प्रेमधन

• गंगा लहरी – पद्माकर (अन्तिम रचना)

• गंगा लहरी – पृथ्वीराज

• गंगा लहरी – जगन्नाथ पंडित

• गंगा लहरी – महावीर प्रसाद द्विवेदी (इन्हांेने जगन्नाथ पंडित की गंगा लहरी को सवैया छन्दों का अनुवाद किया। )

 

7. ज्ञान:-

 

• ज्ञान बोध, ज्ञान परोछि – मलूकदास (रतनखान प्रसिद्ध रचना)

• ज्ञान समुन्द्र – सुन्दरदास

• ज्ञान दीप – शेख नबी

• ज्ञान दीप – दरिया साहब

• दीनदान (एकांकी) – डॉ. रामकुमार वर्मा

• ज्ञान स्वरोदय – चरणदास

• ज्ञान दान (कहानी) – यशपाल

• ज्ञान प्रकाश – जगजीवनदास

(सतनामी सम्प्रदाय के प्रवर्तक)

8. वाणी:-

 

• युगवाणी, वाणी – सुमित्रानन्दन पन्त

• हित चौरासी व स्फूट वाणी – हित हरिवंश

(राधावल्लभ सम्प्रदाय के प्रवर्तक)

• वाणी की दीनता – भवानी प्रसाद मिश्र

• नारद की वाणी (नाटक) – लक्ष्मीनारायण मिश्र

 

9. नखशिख:-

 

• नखशिख – केशवदास

• नखशिख – सुरति मिश्र

• नखशिख – नृपशम्भू

• नखशिख – कुलपति मिश्र

• नखशिख – चन्द्रशेखर वाजपेयी

• जुगल नखशिख – प्रताप साहि

• शिखनख – वल्लभ मिश्र(केशवदास के अग्रज)

 

10. युग:-

 

• युगदीप – उदयशंकर भट्ट

• युगांत,युगवाणी,युगपथ – सुमित्रानन्दन पन्त

• युग की गंगा – केदारनाथ अग्रवाल

• युग चरण – माखन लाल चतुर्वेदी

• युग और साहित्य (निबन्ध) – शांतिप्रिय द्विवेदी

• युगाधार( काव्य,1944ई.) – सोहन लाल द्विवेदी

• युगावतार(गाँधी जी पर केन्द्रित गीत) – सोहन लाल द्विवेदी

• युगधारा ( काव्य,1952ई.) – नागार्जुन

 

11. नल दमयन्ती:-

 

• नल दमयन्ती – नरपति व्यास

• नल दमयन्ती चरित्र – सेवाराम

• नल दमन – सूरदास लखनवी

• कथा नलदमयन्ती – जान कवि

अधिक जानकारी के लिए हमारी वेबसाइट देखें क्लिक करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

error: Content is protected !!