New Update

महत्वपूर्ण तथ्य

पृथ्वीराजरासो को अप्रमाणित,प्रमाणित एवं अर्द्ध प्रमाणित मानने वाले विद्वान

• पृथ्वीराजरासो को अप्रमाणित मानने वाले विद्वान:- ◆ Short Trick :- मुरारि श्यामदेव और रामकुमार शुक्ल ने अमृत मोती बूलर और ओझा को रासो की अप्रमाणिकता के लिए दिया। 1. मुरारिदीन (मुरारि) 2. कविराज श्यामलदास(श्याम) 3. मुंशीदेव(देव) 4. डॉ.रामकुमार वर्मा(रामकुमार) 5. आचार्य रामचन्द्र शुक्ल(शुक्ल) 6. अमृतशील(अमृत) 7. मोती लाल मेनारिया(मोती) 8. डॉ.बूलर (बूलर) 9. डॉ.गौरीशंकर हीराचन्द ओझा(ओझा)। • पृथ्वीराजरासो को ...

Read More »

साहित्‍य अकादमी(sahit‍ya akadami) पुरस्कारों की शार्ट ट्रिक

  [ ] साहित्‍य अकादमी में सम्बन्ध में जानकारी :- • भारत में साहित्‍य की राष्‍ट्रीय संस्‍था की स्‍थापना का प्रस्‍ताव विचाराधीन था। • भारत सरकार ने रॉयल एशियाटिक सोसायटी ऑफ़ बंगाल का साहित्‍य की राष्‍ट्रीय संस्‍था की स्‍थापना का प्रस्‍ताव 1944 में। • साहित्‍य अकादमी नामक राष्‍ट्रीय साहित्यिक संस्‍था की स्‍थापना का निर्णय लिया :- 15 दिसंबर 1952 के ...

Read More »

हिंदी साहित्य के प्रमुख गुरु और शिष्य

क्र.स शिष्य गुरु 1.         गोरखनाथ मत्स्येन्द्रनाथ 2.         डोम्बिपा विरूपा 3.         कुक्कुरिपा चर्पटीया 4.         कण्हपा जालंधरपा 5.         चर्पटनाथ गोरखनाथ 6.         रामानुज यमुनाचार्य 7.         रामानन्द राघवानन्द 8.         नाभादास अग्रदास 9.         वल्लभाचार्य विष्णुस्वामी 10.     सूरदास वल्लभाचार्य 11.     नामदेव विढोबा खेचर 12.     गो.तुलसीदास बाबा नरहरिदास (15साल तक शिक्षा) शेष सनातन (दीक्षा ग्रहण ...

Read More »

रचनाओं संबंध में आलोचकों के विचार

क्रम संख्या रचना कहा जाता है 1.         कामायानी (1935,जयशंकर प्रसाद) मानवता का रसात्मक इतिहास (आचार्य नंददुलारे वाजपेयी) मानव चेतना के विकास का महाकाव्य (डॉ. नगेंद्र) छायावाद का उपनिषद् (शांतिप्रिय द्विवेदी) मानवता का रसात्मक महाकाव्य (आचार्य रामचंद्र शुक्ल ने कहा) नए युग का प्रतिनिधि काव्य  (नंददुलारे वाजपेयी)  आधुनिक सभ्यता का प्रतिनिधि काव्य (नामवर सिंह ने कहा) रहस्यवाद का पहला महाकाव्य ...

Read More »

संगीत नाटक अकादमी पुरस्कार से सम्मानित हिंदी के कवि

संगीत नाटक अकादमी परिचय :- • संगीत, नृत्य और नाटक के लिए भारत की राष्ट्रीय अकादमी  • भारत  द्वारा स्थापित कला की पहली राष्ट्रीय अकादमी है। • अकादमी का उद्घाटन :- 28 जनवरी 1953 को भारत के प्रथम राष्ट्रपति राजेंद्र प्रसाद के द्वारा। • राष्ट्रीय नाट्य विद्यालय की स्थापना :- 1959 में • संगीत नाटक अकादमी एक स्वायत्त निकाय है(भारत ...

Read More »

कवियों के उपनाम(कलम,सखी का अवतार,शेक्सपियर,भारत,डिक्टेटर)

[ ] कलम:- •कलम का सिपाही :- प्रेमचंद (अमृतराय के अनुसार) • कलम का जादूगर :- रामवृक्ष बेनीपुरी • कलम का मजदूर :- प्रेमचंद (मदन मोहन के अनुसार) • कलम की कारीगरी समझने वाला लेखक:- बद्रीनारायण चौधरी ‘ प्रेमघन'(आचार्य शुक्ल के अनुसार) [ ] सखी का अवतार:- • हितू सखी का अवतार :- श्री भट्ट • विशाल सखी का अवतार ...

Read More »

हिंदी के बादशाह कहे जाने वाले कवि

• आर्या के बादशाह:- गोवर्धन • गाथा के बादशाह :- हाल कवि • रूपको का बादशाह :- तुलसीदास (लाला भगवान दीन और बच्चनन सिंह के अनुसार) • अनुप्रास का बादशाह :- तुलसीदास (आचार्य रामचंद्र शुक्ल के अनुसार ) • उत्प्रेक्षा के बादशाह :- तुलसीदास(डॉ. उदय भानु सिंह के अनुसार) • विरोधाभास का बादशाह :- घनानंद • उत्प्रेक्षा का बादशाह:- जायसी ...

Read More »

आधुनिक काल के कवियों के उपनाम

• आधुनिक काल का अजातशत्रु :-भारतेंदु • आधुनिक हिंदी काव्य का वैतालिक:- भारतेंदु • आधुनिक का सूरदास :- हरिऔध (डॉ. गणपति चंद्र गुप्त ने अनुसार ) • आधुनिक युग के पद्माकर :- जगन्नाथदास रत्नाकर • आधुनिक युग के चारण कवि :- दिनकर • आधुनिक युग का तुलसी दास :- मैथिलीशरण गुप्त • आधुनिक हिंदी साहित्य के बापू :- सियाराम शरण ...

Read More »

हिंदी में सम्राट कहे जाने वाले कवि

श्रृंगार सम्राट :- सूरदास • वात्सल्य सम्राट :- सूरदास • विरोधाभासों का सम्राट:- घनानंद • कहानी सम्राट :- प्रेमचंद • कवि सम्राट : – हरिऔध • साहित्य सम्राट :- हरिऔध • शब्दकोश सम्राट :- श्यामसुंदर दास • एकांकी सम्राट:- रामकुमार वर्मा • हिंदी के गज़ल सम्राट :- दुष्यंत कुमार अधिक जानकारी के लिए हमारी वेबसाइट देखें क्लिक करें

Read More »

पद्म भूषण पुरस्कार प्राप्त हिंदी के कवि(padm bhooshan puraskar prapt hindi ke kavi)

क्रम संख्या पद्म भूषण प्राप्त हिंदी के कवि राज्य से संबंध पद्म भूषण प्राप्त सन् 1. मैथिलीशरण गुप्त उत्तर प्रदेश 1954 2. महादेवी वर्मा उत्तर प्रदेश 1956 3. आ.हजारी प्रसाद द्विवेदी उत्तर प्रदेश 1957 4. रामधारी सिंह दिनकर उत्तर प्रदेश 1959 5. पंडित बालकृष्ण नवीन दिल्ली 1960 6. शिवपूजन सहाय बिहार 1960 7. सेठ गोविंददास मध्य प्रदेश 1961 8. राय ...

Read More »

पद्मश्री पुरस्कार प्राप्त हिंदी के कवि(padmashree puraskar prapt hindi ke kavi)

पद्मश्री पुरस्कार

🔷पद्मश्री पुरस्कार प्राप्त करने वाले हिंदी के प्रथम साहित्यकार :- आ. रामचंद्र वर्मा( उत्तर प्रदेश ,1958 ई. ) 🔷पद्मश्री पुरस्कार प्राप्त करने वाली हिंदी की प्रथम लेखिका :- अमृता प्रीतम( दिल्ली, 1969 ई.) क्रम संख्या पद्मश्री पुरस्कार प्राप्त हिंदी के कवि/लेखक  संबंधित राज्य वर्ष 1. आ. रामचंद्र वर्मा उत्तर प्रदेश 1958 ई. 2. मुनिजिनविजय राजस्थान 1961 ई. 3. वृंदावन लाल वर्मा ...

Read More »

व्यास सम्मान की सम्पूर्ण लिस्ट (vyaas samman ki sampoorn list)

व्यास सम्मान

                                                                  🔷 व्यास सम्मान(vyas samman)🔷 भारतीय साहित्य में दिया जाने वाला ज्ञानपीठ पुरस्कार के बाद दूसरा सबसे बड़ा सम्मान। के. के. बिडलाफाउंडेशन के द्वारा दिया जाने वाला दूसरा ...

Read More »

सरस्वती सम्मान प्राप्त हिन्दी के कवि(sarasvati samman prapt hindi ke kavi)

सरस्वती सम्मान

सरस्वती सम्मान:- ·       के.के. बिरला फाउंडेशन के द्वारा दिया जाता है। ·       स्थापना :- 1991 में ·       यह पुरस्कार प्रतिवर्ष भारतीय संविधान की आठवीं अनुसूची में शामिल भाषाओं के भारतीय लेखों के पिछले 10 सालों के प्रकाशित रचनाओं के लिए दिया जाता है । ·       वर्तमान में पुरस्कार राशि:-15लाख₹ ·       के.के. बिरला फाउंडेशन के द्वारा दिया जाने वाला सर्वप्रथम सरस्वती ...

Read More »

मूर्ति देवी पुरस्कार पाने वाले हिंदी के कवि(moorti devI puraskar pane vale hindi ke kavi)

मूर्ति देवी पुरस्कार

                                                                  🔷मूर्ति देवी पुरस्कार🔷 भारतीय ज्ञानपीठ समिति द्वारा 1982 में मूर्ति देवी पुरस्कार देने का निर्णय किया। भारतीय ज्ञानपीठ के संस्थापक साहू शांति प्रसाद जैन की मां मूर्ति ...

Read More »

भारत भारती सम्मान सम्पूर्ण लिस्ट(bharat bharati samman sampoorn list)

भारत भारती सम्मान सम्पूर्ण लिस्ट

                                                           🔷भारत भारती सम्मान🔷 ·       उत्तर प्रदेश की हिंदी संस्था का सबसे बड़ा साहित्यिक सम्मान है। ·       यह उत्तर प्रदेश की हिंदी संस्थान, लखनऊ के माध्यम से हिंदी साहित्य के क्षेत्र में ...

Read More »
error: Content is protected !!