New Update

व्याकरण

लिंग की परिभाषा और हिन्दी में लिंग के प्रकार

     लिंग * लिंग :- शब्द के जिस रूप या चिह्न से उसके पुरुष अथवा स्त्री जाति के होने का बोध हो, उसे लिंग कहते हैं। ◆ लिंग के भेद:- हिंदी में लिंग के दो भेद होते हैं: पुल्लिंग स्त्रीलिंग पुल्लिंग :- शब्द के जिस रूप या चिह्न से उसके पुरुषवाचक होने का बोध हो, उसे पुल्लिंग कहते हैं। ...

Read More »

इच्छा से सम्बन्धित महत्वपूर्ण वाक्याश(ichchha se sambandhit mahatvapoorn vakyash)

इच्छा से सम्बन्धित महत्वपूर्ण वाक्याश

                                                          🌺 इच्छा से सम्बन्धित महत्वपूर्ण वाक्याश🌺   1. सांसारिक वस्तुओं को प्राप्त करने की इच्छा :- एषणा   2. कार्य करने की इच्छा :-  चिक्कीर्षी   3. जीतने, दमन करने की ...

Read More »

वाक्य के प्रकार (रचना के आधार पर ) एवं परिभाषा{vaky ke prakar evan paribhaasha}

💐💐 वाक्य 💐💐 ◆ परिभाषा :- शब्दों के सार्थक एवं व्यवस्थित क्रम को वाक्य कहा जाता है। ★ उदाहरण :- (i) राहुल गया । (सम्पूर्ण वाक्य के लिए कर्त्ता एवं क्रिया होनी चाहिए ।) (ii) बालक दूध खाता है । (सार्थक वाक्य नही) (iii) बालक दूध पीता है। (सार्थक वाक्य है) ◆ रचना के आधार पर वाक्य तीन प्रकार के ...

Read More »

एक वाक्यांश के लिए एक शब्द(ek vaakyaansh ke lie ek shabd)

  एक वाक्यांश के लिए एक शब्द का pdf download करने के लिए नीचे दिये गये लिंक पर क्लिक करे। https://hindibestnotes.com/wp-content/uploads/2021/02/एक-वाक्यांश-के-लिए-एक-शब्द.pdf 👉 पढ़ना जारी रखने के लिए यहाँ क्लिक करे। 👉 Pdf नोट्स लेने के लिए टेलीग्राम ज्वांइन कीजिए। 👉 प्रतिदिन Quiz के लिए Facebook ज्वांइन कीजिए।

Read More »

मुहावरे और लोकोक्तियाँ (muhavare aur lokoktiyan ) में अन्तर

मुहावरे और लोकोक्तियाँ की परिभाषा मुहावरे और लोकोक्तियाँ दोनों ही भाषा के उपयोग में होने वाले प्रतिभास होते हैं, लेकिन उनमें कुछ अंतर होता है। मुहावरे (Idioms): मुहावरे एक विशेष अर्थ या संकेत को व्यक्त करने के लिए उपयोग किए जाने वाले वाक्यांश होते हैं। ये आमतौर पर एक संयुक्त शब्दार्थ को व्यक्त करने के लिए होते हैं, जिनका प्रत्येक ...

Read More »

कारक(karak) की परिभाषा और प्रकार

कारक (Case) भाषा विज्ञान में एक शब्द होता है जो किसी शब्द या वाक्यांश के संदर्भ में उसके स्थान या भूमिका का संदेश देता है। कारक शब्द या वाक्यांश के संदर्भ में किसी क्रिया, संज्ञा, या सर्वनाम के संदर्भ में उसका सम्बंध बयान करता है। कारकों के प्रमुख प्रकार होते हैं: कर्ता (Subjective case): कारक वाक्यांश के प्रमुख क्रिया करने ...

Read More »

वाच्य(vachy) की परिभाषा एवं प्रकार

वाच्य (Voice) भाषा विज्ञान में एक मुख्य विभाजन है जो किसी क्रिया के व्यक्ति (कर्ता), क्रिया (कार्य), और वस्तु (कर्म) के संबंध को दर्शाता है। वाच्य वाक्यांशों को उनके कार्यों के प्रकार के आधार पर विभाजित करता है। वाच्य के प्रमुख प्रकार होते हैं: 1.   कर्तृवाच्य (Active Voice): जब क्रिया का कर्ता कार्य को सम्पन्न करता है, तो उसे कर्तृवाच्य ...

Read More »

तत्सम – तद्भव(tatsam – tadbhav) शब्दों एवं देशज- विदेशी शब्दों की याद करने आसान शॉर्ट ट्रिक

तत्सम, तद्भव, देशज, और विदेशी शब्द विभिन्न भाषाओं के शब्दों के लिए उपयोग किए जाने वाले शब्द वर्ग हैं। ये शब्दों के उत्पत्ति और संरचना के आधार पर विभाजित किए जाते हैं। 1. तत्सम (Sanskrit-Origin Words): तत्सम शब्द उस भाषा के शब्द होते हैं जो संस्कृत से सीधे उत्पन्न हुए हैं और उनका अर्थ और रूप संस्कृत से ही प्राप्त ...

Read More »

उपसर्ग(upasarg)की परिभाषा एवं  उदाहरण

उपसर्ग (Prefix) भाषा विज्ञान में एक प्रकार का प्रत्यय है जो किसी शब्द के आधे में जोड़कर उसके अर्थ को परिवर्तित करता है। यह शब्द के अर्थ को पूर्णतः बदलता नहीं है, लेकिन उसे अधिक स्पष्ट और सहज बनाता है। उपसर्ग शब्दों का प्रयोग करते समय मुख्य शब्द के प्रत्यय के बाद उपयोग किया जाता है। उपसर्ग के कुछ उदाहरण ...

Read More »

प्रत्यय(pratyay)

प्रत्यय (Suffix) भाषा विज्ञान में एक प्रकार का प्रत्यय है जो किसी शब्द के आखिर में जोड़कर उसके अर्थ को परिवर्तित करता है। प्रत्यय शब्द की श्रेणी, गुण, क्रिया, प्रकृति, या संबंध को दर्शाता है। प्रत्ययों के कुछ उदाहरण हैं: -ता (-taa): इस प्रत्यय का अर्थ ‘स्थिति’ या ‘गुण’ होता है। उदाहरण: सुन्दरता (सुन्दर स्थिति)। -कारी (-kaari): इस प्रत्यय का ...

Read More »

विराम चिह्न(viraam chihn ) की परिभाषा एवं प्रकार

विराम चिह्न (Punctuation) लिखित भाषा में वाक्यों को व्यक्त करने और समझने में मदद करने वाले चिह्न होते हैं। ये चिह्न वाक्य संरचना, विराम, अर्थ, और अंदाज को स्पष्ट करने में मदद करते हैं। कुछ प्रमुख विराम चिह्न निम्नलिखित होते हैं: विराम चिह्न (Full Stop): वाक्य के अंत में लगाया जाता है और वाक्य को समाप्त करता है। उदाहरण: “मैं ...

Read More »

लिंग(ling) की परिभाषा एवं प्रकार

“लिंग” (Gender) भाषा विज्ञान में एक महत्वपूर्ण विभाजन है जो शब्दों और वाक्यों के संदर्भ में उनकी जाति या लिंग को दर्शाता है। लिंग शब्दों के वाचक रूप (संज्ञा, सर्वनाम, क्रिया, आदि) को व्यक्त करता है कि वे पुरुष, महिला, या नपुंसक हैं। लिंग के प्रमुख प्रकार हैं: पुल्लिंग (Masculine): जिन शब्दों या वाक्यांशों से पुरुष के संबंध में बात ...

Read More »

व्यंजन संधि और विसर्ग संधि( Vyasan Sandhi and Visarga Sandhi)

व्यंजन संधि और विसर्ग संधि का pdf download करने के लिए नीचे दिये गये लिंक पर क्लिक करे। 👉 पढ़ना जारी रखने के लिए यहाँ क्लिक करे। 👉 Pdf नोट्स लेने के लिए टेलीग्राम ज्वांइन कीजिए। 👉 प्रतिदिन Quiz के लिए Facebook ज्वांइन कीजिए। https://hindibestnotes.com/wp-content/uploads/2021/02/व्यंजन-संधि-एवं-विसर्ग-संधि-हैंडराइटिंग.pdf

Read More »

दीर्घ संधि(deergh sandhi)

संधि की परिभाषा संधि के भेद  दीर्घ संधि   👉 पढ़ना जारी रखने के लिए यहाँ क्लिक करे। 👉 Pdf नोट्स लेने के लिए टेलीग्राम ज्वांइन कीजिए। 👉 प्रतिदिन Quiz के लिए Facebook ज्वांइन कीजिए। दीर्घ संधि का pdf download करने के लिए नीचे दिये गये लिंक पर क्लिक करे। https://hindibestnotes.com/wp-content/uploads/2021/02/संधि-और-उसके-भेद-स्वर-संधि-हैंडराइटिंग1.pdf

Read More »

हिंदी शब्दकोश में शब्दों का क्रम|(hindi shabdakosh mein shabdon ka kram)

“हिंदी शब्दकोश” हिंदी भाषा में शब्दों का संग्रह होता है। यह शब्दों के अर्थ, उच्चारण, वाक्य प्रयोग, और उसके विविध रूपों के बारे में जानकारी प्रदान करता है। हिंदी शब्दकोश में शब्दों को अक्षरों के क्रमबद्ध सूचियों के रूप में व्यवस्थित किया जाता है, ताकि पाठकों को आसानी से शब्द का अर्थ पता चल सके। 👉 पढ़ना जारी रखने के ...

Read More »
error: Content is protected !!