100 महत्वपूर्ण बहुविकल्पीय प्रश्न पार्ट -3 (100 mahatvapoorn bahuvikalpeey prashn)

1.खडीबोली के आदि कवि कौन है?

(A) प्रेमघन

(B) भारतेन्दु

(C) अमीर खुसरो✅

D) सरहपा

2.”जायसी की वाक्य-रचना स्वच्छ होने पर भी तुलसी के समान सुव्यस्थित नहीं है”- यह कथन किसका है ?

(A) डॉ. गोविंद त्रिगुणायत

(B) विजयदेव नारायण साही

(C) आ. रामचंद्र शुक्ल✅

(D) डॉ. शिव सहाय पाठक

3. ‘अलम है इष्ट, अतः अनमोल, साधना ही जीवन का मोल।’ये काव्य पंक्तियाँ किसकी हैं ?

(A) प्रसाद

(B) निराला

(C) सुमित्रानन्दन पंत✅

(D) महादेवी वर्मा

4. निम्नलिखित में से कौन सी भाषा संविधान की आठवीं अनुसूची में वर्णित नहीं है?

(A) सिंधी

(B) अंग्रेजी✅

(C)  कश्मीरी

(D)  नेपाली

5. निम्नलिखित में से मैत्रेयी पुष्पा की रचना कौनसी है ?

(A) कोरजा

(B) फरिश्ते निकले✅

(C) कागज की नाव

(D) कठगुलाब

6.’धूर्त रसिकलाल’ किसका उपन्यास है ?

(A) बालकृष्ण भट्ट

(B) राधाकृष्ण दास

(C) गोपालराय गहमरी

(D) लज्जाराम शर्मा✅

7. ‘सर्वमुख’ नामक अग्रवाल बनिया की कथा किस
उपन्यास में उल्लिखित है?

(A) देवरानी जेठानी की कहानी✅

(B) वामा शिक्षक

(C) भाग्यवती

(D) निःसहाय हिन्दू

8.’वाणी मेरी चाहिए तुम्हें क्या अलंकार’ किसकी पंक्ति है ?

(A) प्रसाद

(B) पन्त✅

(C) निराला

(D) महादेवी

9. ‘दुलहिन गावहु मंगलचार, हम घर आए हो राजाराम भरतार।’ किसकी पंक्ति है?

(A) कबीर✅

(B) दादू दयाल

(C) नानक

(D) रैदास

10.’कागज की आजादी मिलती
     ले लो दो-दो आने में।’ पंक्तियों के रचनाकार कौन हैं ?

(A) नागार्जुन✅

(B) रघुवीर सहाय

(C) निराला

(D) मुक्तिबोध

💐 भारत की आजादी को नागार्जुन कागज की आजादी कहते हैं- “कागज की आजादी मिलती ले लो दो-दो आने में। (लाल भवानी कविता से)

11.’असहमति में उटा एक हाथ’ किसकी जीवनी है?

(A) रघुवीर सहाय✅

(B) अमृत लाल नागर

(C) शमशेर बहादुर सिंह

(D) रांगेय राघव
💐 असहमति में उठा एक हाथ (2019) – विष्णु नागर लिखित रघुवीर सहाय की जीवनी
◆ अस्वीकृति में उठा हाथ :- ओशो की  किताब
◆ अस्वीकृति में उठा हाथ :- विमल राजस्थानी की कविता

12. सूफी मत मे इश्क मजाजी से तात्पर्य है

(A) अलौकिक प्रेम

(B) लौकिक प्रेम✅

(C) प्रेम का अभाव

(D) प्रेमनिरूपण में मसनवी शैली
💐सांसारिक प्रेम/ लौकिक प्रेम :- इश्क मजाजी
◆ ईश्वरीय प्रेम / अलौकिक प्रेम :- इश्क हकीकी

13. द्वंद्वात्मक भौतिकवाद से संबद्ध यांत्रिक भौतिकवाद किस विचारक का सिद्धांत रहा है।

(A) हीगेल

(B) फायर बाख✅

(C) फ्रेडरिख ऐंजिल्स

(D) लेनिन ब्लादीमीर ईलिच

14. जैन मत के अनुसार योग में चरित्र निर्माण के अंतर्गत प्राप्त ‘सूत’ से तात्पर्य है-

(A) सच बोलना✅

(B) साधना करना

(C) सामान्य जीवन यापन करना

(D) सहयोग देना

15. किसे ‘पंच बिड़ाल’ के अंतर्गत नहीं लिया जा सकता ?

(A) आलस्य

(B) अहिंसा✅

(C) चिकित्सा

(D) मोह

💐पंच बिड़ाल 💐 

◆  बौद्ध शास्त्रों में निरूपित पंच प्रतिबंध :-
1. आलस्य
2. हिंसा
3. काम
4. चिकित्सा
5. मोह
● ध्यान देने की बात यह है कि विकारों की यही पाँच संख्या निर्गुण धारा के संतों और हिन्दी के सूफी कवियों ने ली।
●  हिंदू शास्त्रों में विकारों की बँधी संख्या

16.”हार से मनुष्य की न महिमा घटेगी और
तेज न बढ़ेगा किसी मानव का जीत से।”
दिनकर की पंक्तियाँ उनकी किस रचना की है?

(A) रश्मिरथी

(B) कुरुक्षेत्र✅

(C) रेणुका

(द) हारे को हरिनाम

17. दीपशिखा किसकी रचना है ?

(A) सूर्यकांत त्रिपाठी ‘निराला’

(B) महादेवी वर्मा✅

(C) सुमित्रानंदन पंत

(D) जयशंकर प्रसाद

18.”कौमुदी’ से क्या अभिप्राय है ?

(A) अष्टाध्यायी का संस्करण✅

(B) महाभाष्य का संस्करण

(C) निघंटु का संस्करण

(D) निरुक्त का संस्करण

19. क्रोचे विरोध करते है-

(A) वस्तुगत सत्ता का✅

(B) आत्मगत सत्ता का

(C) A और B दोनों

(D) इनमें से कोई नहीं

💐 क्रोचे सौन्दर्य की वस्तुगत सत्ता को पूर्णतः अस्वीकारते है और आत्मगत सत्ता के पक्षधर है।

20. किस आचार्य ने प्रीति और कीर्ति को काव्य प्रयोजन माना है ?

(B) आचार्य भरत मुनि

(B) आचार्य भामह

(C) आचार्य वामन✅

(D) आचार्य मम्मट

💐 “काव्यं सत् दृष्टादृष्टार्थ प्रीतिकीर्त्तिहेतुत्वात्।”
(आ. वामन,काव्यालंकारसूत्रवृत्ति)
★ आचार्य वामन ने दृष्ट और अदृष्ट के रूप में काव्य के दो प्रयोजन स्वीकार किए। इनमें दृष्ट का संबंध ‘आनंद’ (प्रीति) तथा अदृष्ट का संबंध ‘कीर्ति’ से है।

◆ आचार्य भोजराज ने अपने ग्रंथ ‘सरस्वती कंठाभरण’ में कीर्ति और प्रीति (आनंद) को काव्य प्रयोजन निरूपित किया है।

21. ऐतरेय किसके अंतर्गत आते हैं ?

(A) वेद

(B) उपनिषद✅

(C) शुद्धाद्वैतवाद

(D) विशिष्टाद्वैतवाद

22. रीतिकाल को ‘श्रृंगार काल किसने कहा ?

(A) आचार्य रामचंद्र शुक्ल

(B) आचार्य विश्वनाथप्रसाद मिश्र💐

(C) मिश्रबंधु

(D) आ. हजारी प्रसाद द्विवेदी

💐 रीतिकाल का नामकरण💐

◆ रीतिकाव्य     :- जार्ज ग्रियर्सन

◆ अलंकृत काल :- मिश्रबंधु

◆ रीतिकाल :- रामचंद्र शुक्ल
★ आचार्य रामचन्द्र शुक्ल ने हिन्दी साहित्य के उत्तर मध्य काल को रीतिकाल’ माना है।
★ रामचंद्र शुक्ल  ने रीतिकाल ‘श्रृंगार काल’ कहे जाने की छूट दी है।

◆ श्रृंगार काल :- विश्वनाथ प्रसाद मिश्र

◆ कलाकाल :- डॉ. रमाशंकर शुक्ल ‘रसाल’

23.  ‘कल्चर वल्चर ‘किसकी रचना है ?

(A) अरुंधति रॉय

(B) ममता कालिया✅

(C) कृष्णा सोबती

(D) नासिरा शर्मा

24.साधारणीकरण विभावादि का ही नहीं, स्थायी भाव का भी होता है – यह मान्यता किसकी है ?

(A) भरतमुनि

(B) आनंदवर्द्धन

(C) भट्टलोल्लट

(D)अभिनवगुप्त✅

25. सामाजिक को होने वाली रसानुभूति पर सर्वप्रथम किसने विचार किया ?

(A) भट्टनायक✅

(B) भामह

(C) आचार्य शंकुक

(D) भट्टलोल्लट

26. अभिधा का आश्रय लेते हुए विलक्षण अर्थ की सिद्धि किस शब्द-शक्ति का लक्षण है ?

(A) आर्थी व्यंजना

(B) शाब्दी व्यंजना✅

(C) रूढ़ि

(D) प्रयोजनवती लक्षणा

27. ध्वनि सिद्धांत के अनुसार काव्य के कितने भेद हैं ?

(A) दो

(B) चार

(c) तीन✅

(D) एक भी नहीं

💐 ध्वनि सम्प्रदाय के अनुसार काव्य तीन प्रकार के होते हैं:-
1. ध्वनि-काव्य
2. गुणीभूत-व्यंग्य
3. चित्र-काव्य ।

◆ शब्द-शक्तियों के आधार पर ध्वनि के दो भेद किये जाते हैं:-
1.अभिधामूलक ध्वनि,
2. लक्षणामूलक ध्वनि ।

28. भाषा के अर्थ में हिन्दुस्तानी शब्द का प्रयोग किसने किया ?

(A) तुजके बाबरी✅

(B) तुजक बाबर

(C) तुगलक बाबरी

(D) बाबर

29. किस विदेशी विद्वान ने हिंदी का व्याकरण सबसे पहले लिखा ?

(A) पादरी ऐंथरिगटन

(B) जोथुआ केटलर✅

(C) बेग बेलगौत्रा

(D) स्वीट

30.साकेत’ और ‘यशोधरा’ प्रबंधकों में ‘काव्यत्व का तो पूरा विकास’ है, लेकिन ‘प्रबंधत्व की कमी’ है- यह कथन है :

(A) महावीरप्रसाद द्विवेदी

(B) रामचन्द्र शुक्ल✅

(C) नंददुलारे वाजपेयी

(D) नगेन्द्र

31. ‘तुम भूल गये पुरुषत्व मोह में कुछ सत्ता है नारी की’ काव्य पंक्ति निम्न में से किस काव्य की है ?-

(A) साकेत

(B) आँसू

(C) कामायनी✅

(D) तुलसीदास

32. ‘परिवर्तन’ कविता पंत के किस कविता-संग्रह में शामिल है ?

(A) पल्लव✅

(B) गुंजन

(C) ग्राम्या

(D) युगवाणी

33. मध्य प्रदेश क्षेत्र की बोली का नाम बताइये ।

(A) भोजपुरी

(B) मालवी✅

(C) मैथिली

(D) मगही

34. संविधान में हिंदी को संघ की राजभाषा और देवनागरी लिपि को राजलिपि कब घोषित किया गया ?

(A) 1949 ✅

(B) 1951

(C) 1948

(D) 1950

35. ‘बटन रोज’ उपन्यास किसके द्वारा लिखा गया है?

(A) रजनी मोरवाल ✅

(B) ममता कालिया

(C) मधु कांकरिया

(D) मन्नू भण्डारी

💐 ‘बटन रोज’ उपन्यास (2023) रजनी मोरवाल के द्वारा लिखा गया है।

◆उपन्यास की नायिका:-  मारिया (एंग्लो इंडियन ) 

36.’प्रतिभैव च कवीनां काव्यकारणकारणम्’ मान्यता’ है :

(A) वामन

(B) भामह

(C) सम्मर

(D) हेमचन्द्र✅

37.’हालात-ए-कन्हैया’ किसकी रचना है-

(A) पूरन भगत

(B) विद्यापति

(C) अमीर खुसरो✅

(D) इनमें से कोई नहीं

38.समग्र भक्तिकालीन काव्य पर कौन-सी विशेषता लागू होती है?

(A) अवतार में विश्वास

(B) जाति-प्रथा का निषेध

(C) अहंकार का त्याग✅

(D) ईश्वरीय लीला गायन

39.निम्नलिखित में से कौन राधावल्लभ सम्प्रदाय का प्रवर्तक है?

(A) वल्लभाचार्य

(B) हित हरिवंश✅

(C) गोविंद स्वामी

(D) छीत स्वामी

40.संत-साधना का साहित्यिक रूप प्रारम्भ हुआ?

(A) काशी

(B) पंढरपुर✅

(C) प्रयाग

(D) उज्जैन

41. कलाधर’ उपनाम से रचना करने वाले का नाम है-

(A) सुमित्रानंदन पंत

(B) सूर्यकांत तिपाठी निराला

(C) महादेवी वर्मा

(D) जयशंकर प्रसाद✅

42. ‘अग्निपथ के पार चंदन-चांदनी का देश’ किसकी पंक्ति है?

(A) हरिवंश राय बच्चन

(B) महादेवी वर्मा✅

(C) सुमित्रानंदन पंत

(D) नरेन्द्र वर्मा
💐 मोम सा तन घुल चुका(कविता ,दीपशिखा काव्य संग्रह) महादेवी वर्मा

43. “एक पत्र-छाँह भी माँग मत, माँग मत, माँग मत!
अग्नि पथ! अग्नि पथ! अग्नि पथ!”किसकी पंक्ति है?

(A) हरिवंश राय बच्चन✅

(B) महादेवी वर्मा

(C) सुमित्रानंदन पंत

(D) नरेन्द्र वर्मा

44. “इसमें कोई सन्देह नहीं कि कबीर को ‘राम-नाम’ रामानंद जी से ही प्राप्त हुआ। पर आगे चल कर कबीर के ‘राम’ रामानंद के ‘राम’ से भिन्न हो गए।” यह कथन किसका है?

(A) राहुल सांकृत्यान

(B) रामचंद्र शुक्ल✅

(C) हजारीप्रसाद द्विवेदी

(D) माताप्रसाद गुप्त

45. ‘चित्रावली’ किसकी रचना है-

(A) उसमान✅

(B) शेखनवी

(C) कासिमशाह

(D) नूर मुहम्मद

46. सूफी काव्य पद्धति का अंतिम ग्रन्थ कौन-सा है?

(A) युसूफ जुलेखा

(B) पद्मावत

(C) मृगावती

(D) इन्द्रावती✅

47. तीसरी हथेली कहानी के रचनाकार है?

(A) राज सेठ✅

(B) मंजुल भगत

(C) मणिका मोहिनी

(D) सुधा अरोडा

48. सीता को प्रधानता देकर लिखा गया काव्य ‘सीतायन’ के रचयिता है

(A) नाभादास

(B) रामानंद

(C) जानकी रसिक शरण

(D) रामप्रिया शरण✅

49.’भल्ला हुआ जु मारियो बहिणि हमारा कंतु ।
लज्जेजं तु वयंसिअहु जई भग्या घरु एंतु ।’
ये प्रसिद्ध पंक्तियाँ इनमें से किस कवि की हैं?

(A) शाङ्गधर

(B) सोमप्रभसूरि

(C) कण्हपा

(D) हेमचन्द्र✅

💐 भल्ला हुआ जो मारिया बहिणि महारा कंतु ।
       लज्जेजं तु वयंसिअहु जइ भग्गा घर एंतु ।
(हे बहिन, भला हुआ मेरा कंत मारा गया। यदि भागा हुआ घर आता तो मैं सखियों में लजाती।)

50.”इस संबंध में इसके अतिरिक्त और कुछ कहने की जगह नहीं कि यह पूरा ग्रंथ वास्तव में जाली है।”
‘पृथ्वीराजरासो’ विषयक यह स्थापना किसकी है?

(A) रामचंद्र शुक्ल✅

(B) कविराज श्यामलदास

(C) डॉ. बूलर

(D) गौरीशंकर हीराचंद ओझा

51.’शंकराचार्य के बाद इतना प्रभावशाली और इतना महिमान्वित महापुरुष भारतवर्ष में दूसरा नहीं हुआ।”- हजारीप्रसाद द्विवेदी की यह उक्ति किसके विषय में है?

(A) सरहपा

(B) रामानंद

(C) गोरखनाथ✅

(D) तुलसीदास

52.भक्ति आंदोलन को ‘लोक जागरण’ किसने कहा?

(A) नगेन्द्र

(B) राहुल संकृत्यायन

(C) रामविलास शर्मा

(D) हजारी प्रसाद द्विवेदी✅

53.राजस्थान से संबंधित संत-भक्त संप्रदाय नहीं है-

(A) निंरजनी संप्रदाय

(B) जसनाथी संप्रदाय

(C) लालदासी संप्रदाय

(D) बावरी संप्रदाय✅

54.गोस्वामी तुलसीदास किनसे मिलने वृंदावन गए थे ?
(A) नाभादास✅

(B) सूरदास

(C) रामचरणदास

(D) बेनी माधवदास

💐 ऐसा प्रसिद्ध है कि नाभादास जी एक बार गोस्वामी तुलसीदास जी से मिलने काशी गए। पर उस समय गोस्वामी जी ध्यान में थे, इससे न मिल सके। नाभादास जी उसी दिन वृंदावन चले गए। ध्यान भंग होने पर गोस्वामी जी को बड़ा खेद हुआ और वे तुरंत नाभादास जी से मिलने वृंदावन चल दिए।
◆ तुलसीदास जी के संबंध में नाभादास जी का प्रसिद्ध छप्पय यह है-
त्रोता काव्य निबंध करी सत कोटि रमायन।
इक अच्छर उच्चरे ब्रहमहत्यादि परायन ।।

55. आचार्य रामचन्द्र शुक्ल की चिन्तनात्मक मान्यताओं के प्रबल समर्थक माने जाते है

(A) विजयदेव नारायण साही

(B) नामवरसिंह

(C) नन्ददुलारे वाजपेयी

(D) रामविलास शर्मा✅

56. भारतीय संविधान के किस भाग में राजभाषा संबंधी प्रावधान है ?

(A) 2,5, और 17

(B) 2,6 और 17

(C) 7,2 और 17

(D) 6.5 और 17✅

57. अन्तर्राष्ट्रीय शब्दावली को भारतीय पारिभाषिक शब्दावली के लिए ज्यों का त्यों स्वीकार कर लेने के पक्षधर नहीं हैं:

(A) डॉ. शांतिस्वरूप भटनागर

(B) डॉ. रघुवीर✅

(C) डॉ. जे.सी. घोष

(D) डॉ. डी.सी. लूथरा

58. संविधान के किस अनुच्छेद के अनुसार संघ की राजभाषा देवनागरी हिन्दी है ?

(A) अनुच्छेद 343(1)✅

(B) अनुच्छेद 344 (1)

(C) अनुच्छेद 345 (1)

(D) अनुच्छेद 346 (1)

59. ‘उदन्त मार्तंड’ के सम्पादक कौन थे ?

(A) पं. प्रतापनारायण मिश्र

(B) पं. बालकृष्ण भट्ट

(C) पं. जुगल किशोर✅

(D) लाला श्रीनिवासदास

💐 उदंत मार्तंड

★ उदन्त मार्तण्ड का शाब्दिक अर्थ है ‘समाचार-सूर्य

★हिंदी पहला का पत्र

★ हिंदी का प्रथम साप्ताहिक पत्र

★ यह  पत्र पुस्तकाकार (12×8) छपता था।

★ प्रकाशन :- 30 मई 1826 ई., प्रति मंगलवार को
【 30 मई को हिन्दी पत्रकारिता दिवस के रूप में मनाया जाता है। 】

★ इस पत्र का प्रकाशन होता था :- कलकता के कोलू टोला मोहल्ले की 37 नंबर आमड़तल्ला गली से 

★   प्रकाशक और  संपादक :- पंडित जुगल किशोर शुक्ल (अभिलेखों में इनका नाम युगल किशोर शुक्ल भी मिलता )

60.”माता पिता जग जाइ तज्यौ विधिहू न लिख्यो कछु भाल भलाई” तुलसीदास की किस कृति की पंक्ति है?

(A) गीतावली

(B) कवितावली✅

(C) रामचरितमानस

(D) विनयपत्रिका

61. “झरि लागै मलिया गगन घहराय।
खन गरजै, खन बिजुली चनकै, लहरि उठै शोभा बरनि न जाय।”किसकी पंक्तियों है ?

(A) धर्मदास✅

(B) दादूदयाल

(C) कबीर दास

(D) सूरदास

62.आनंदवर्धन ने ‘रीति’ के स्थान पर किस शब्द का प्रयोग किया है?

(A) वृत्ति

(B) संघटना✅

(C) मार्ग

(D) उपर्युक्त में से कोई नहीं

63.किस आचार्य में रस निष्पत्ति की व्याख्या में ‘चित्र तुरंग न्याय’ की अवधारणा की है ?

(A) भट्टलल्लोट

(B) अभिनवगुप्त

(C) भट्टनायक

(D) शंकुक✅

64. “सूरति सिंगार की उजारी छवि आठी भांति,
दीठि लालसा के लोयननि लैलै आँजिहौं।
रतिरसना सवाद पाँवड़े पुनीतकारी पाय,
चूमि चूमि कै कपोलनि सों माँजिहौं।”
प्रस्तुत काव्य-पंक्तियों के रचयिता हैं :
(EMRS PGT 2023)

(A) घनानंद✅

(B) सेनापति

(C) बोधा

(D) केशवदास

65. निम्नलिखित में महादेवी वर्मा का संस्मरण/रेखाचित्र – है:(EMRS PGT 2023)

(A) अतीत के चलचित्र

(B)  स्मृति की रेखाएँ

(C) पथ के साथी

(D) वन तुलसी की गंध✅

💐वन तुलसी की गंध :- प्रमोद त्रिवेदी की रचना

66.”धिक आए तुम यों अनाहूत
धो दिया श्रेष्ठ कुल धर्म धूत,
राम के नहीं काम के सुत कहलाए।”
प्रस्तुत काव्य-पंक्तियाँ निराला की किस कविता से हैं
(EMRS PGT 2023)
(A) तुलसीदास💐

(B) राम की शक्ति पूजा

(C) विधवा

(D) सरोज स्मृति

67.’जमाने में हम’ आत्मकथा की लेखिका हैं:
(EMRS PGT 2023)
(A) मन्नू भंडारी

(B) निर्मला जैन💐

(C) चित्रा मुद्गल

(D) रमणिका गुप्ता

68.”माई न होती, बाप न होते, कर्म्म न होता काया। हम नहिं होते, तुम नहिं होते, कौन कहाँ ते आया।”
उपर्युक्त काव्य-पंक्तियों के रचयिता हैं:
(EMRS PGT 2023)
(1) कबीर

(2) रैदास

(3) दादू

(4) नामदेव💐

69. द्वैतवादी वैष्णव संप्रदाय के प्रवर्तक थे :
(EMRS PGT 2023)
(A) रामानुजाचार्य

(B) मध्याचार्य💐

(C) वल्लभाचार्य

(D) रामानंद

70.निम्नलिखित में से ‘रासपंचाध्यायी’ के रचयिता हैं
(EMRS PGT 2023)
(A) नंददास💐

(B) कृष्णदास

(C)गोविंद स्वामी

(D) हितहरिवंश

71.’गोरख जगायो जोग, भगति भगायो लोग।’ किसने कहा है?
(EMRS PGT 2023)
(A) कबीरदास

(B) गोरखनाथ

(C) हजारी प्रसाद द्विवेदी

(D) तुलसीदास💐

72. राजभाषा संबंधी प्रावधानों की दृष्टि से कौन-सा विकल्प तथ्यात्मक दृष्टि से सही नहीं है ?
(EMRS PGT 2023)
(A) राष्ट्रपति के आदेश, 1960

(B) राजभाषा संकल्प ,1965✅

(C) राजभाषा नियम ,1976

(D) राजभाषा अधिनियम, 1963

💐 राजभाषा संबंधी प्रावधान 💐

● राष्ट्रपति के आदेश, 1960

● राजभाषा अधिधियम, 1963

● राजभाषा नियम, 1976

● राजभाषा नियम, 1976 [ हिंदी के अनुमानित ज्ञान के आधार पर देश के राज्यों/संघ शासित प्रदेशों को तीन क्षेत्रों, यथा – क, ख, ग में परिभाषित किया गया है]

● राजभाषा संकल्प 1968

● संविधान (संशोधन) विधेयक, 2011

73. “सच है, कला निसर्ग-मुक्त है नियति रचित नियमों से, न तो नीति-सेविका, न तो चाटिका किसी दर्शन की, किंतु, कौन है ज्ञान, नहीं सौरभ जिसके फूलों का कला-लोक पर घिरे व्योम मंडल में मँडराता है।”प्रस्तुत काव्य पंक्तियों के रचनाकार हैं:
(EMRS PGT 2023)

(A) दिनकर✅

(B) अज्ञेय

(C) श्रीकांत वर्मा

(D) निराला

74.निम्नलिखित में से ‘तार सप्तक’ का कवि नहीं है:
(EMRS PGT 2023)
(A) भारतभूषण अग्रवाल

(B) रामविलास शर्मा

(C) केदारनाथ सिंह✅

(D) मुक्तिबोध

💐 केदारनाथ सिंह :- तीसरा सप्तक (1959) के कवि

◆ तारसप्तक सप्तक (1943) के कवि◆

1. सच्चिदानंद हीरानंद वात्स्यायन ‘अज्ञेय'(1911-1987,देवरिया)

2.रामविलास शर्मा(1912-2000
,उन्नाव)

3.गजानन माधव मुक्तिबोध
(1917-1964,ग्वालियर)

4.प्रभाकर माचवे (1917-1991
,ग्वालियर)

5.नेमिचन्द्र जैन(1918,आगरा)

6.गिरिजा कुमार माथुर
(1918-1994,मध्य प्रदेश)

7.भारतभूषण अग्रवाल
(1919-1975,मथुरा)

75. निम्नलिखित में से ‘सीढ़ियों पर धूप में’ कविता-संग्रह के रचयिता हैं : (EMRS PGT 2023)

(A) नरेश मेहता

(B) रघुवीर सहाय✅

(C) श्रीकांत वर्मा

(D) सर्वेश्वरदयाल सक्सेना

💐 “सीढ़ियों पर धूप में”💐
● कविता-संग्रह
●  रचयिता : – रघुवीर सहाय
● प्रकाशन :- 1960ई.
● सम्पादन :- अज्ञेय
● प्रमुख पंक्ति :-
“आज फिर शुरू हुआ जीवन
आज मैंने एक छोटी-सी सरल-सी कविता पढ़ी
आज मैंने सूरज को डूबते देर तक देखा जी भर
आज मैंने शीतल जल से स्नान किया
आज एक छोटी-सी बच्ची आई, किलक मेरे कन्धे चढ़ी
आज मैंने आदि से अन्त तक पूरा गान किया
आज फिर जीवन शुरू हुआ ।”

● सच्चिदानन्द वात्स्यायन अज्ञेय ने
“सीढ़ियों पर धूप में काव्य संग्रह”  की भूमिका में कहा:-

√ “नये हिन्दी गद्य लेखकों में जिन्हें वास्तव में मॉडर्न कहा जा सकता है, उनमें रघुवीर सहाय अन्यतम हैं।”

√ “आधुनिक हिन्दी कहानी के विकास की चर्चा में, यदि ‘आधुनिक’ पर बल दिया जा रहा हो, तो पहले दो-तीन नामों में अवश्यमेव उनका नाम लेना होगा: कदाचित् पहला नाम ही उनका हो सकता है। उनकी सरल, साफ़ सुथरी और अत्यन्त सधी हुई भाषा इसके सर्वथा अनुकूल है।…”

√”अपने छायावादी समवयस्कों के बीच ‘बच्चन की भाषा जैसे एक अलग आस्वाद रखती थी और शिखरों की ओर न ताक कर शहर के चौक की ओर उन्मुख थी, उसी प्रकार अपने विभिन्न मतवादी समवयस्कों के बीच रघुवीर सहाय भी चट्टानों पर चढ़ नाटकीय मुद्रा में बैठने का मोह छोड़ साधारण घरों की सीढ़ियों पर धूप में बैठकर प्रसन्न हैं।

√ “यह स्वस्थ भाव उनकी कविता को एक स्निग्ध मर्मस्पर्शिता दे देता है- जाड़ों के घाम की तरह उसमें तात्क्षणिक गरमाई भी है और एक उदार खुलापन भी…”

● अन्तिम आवरण पृष्ठ –
“कितना सम्पूर्ण होगा वह व्यक्ति जो सुन्दर को देख सकता है पर कुरुप की उपस्थिति में भी विचलित नहीं होता। निश्चय ही उसका अस्वीकार असुन्दर से हैं, कुरुप से नहीं।”

● “हम को तो अपने हक़ सब मिलने चहिए हम तो सारा का सारा लेंगे जीवन ‘कम से कम’ वाली बात न हमसे कहिए।”

● रघुवीर सहाय की प्रमुख कविता ‘दे दिया जाता हूं’

76. निम्नलिखित में रचना और रचनाकार की दृष्टि से
कौन-सा विकल्प सुमेलित नहीं है ?
(EMRS PGT 2023)

(A) साहित्यसार – मतिराम

(B) रसराज  – भूषण✅

(C) युक्तितरंगिणी – कुलपति मिश्र

(D) काव्य विवेक – चिंतामणि त्रिपाठी

💐 रसराज और ललित लालम :- मतिराम की रचना

 

77. निम्नलिखित में अष्टछाप के कवियों में सम्मिलित नहीं हैं। (EMRS PGT 2023)

(A) कुंभनदास

(B) स्वामी हरिदास✅

(C) गोविन्द स्वामी

(D) परमानंद दास

⭐ अष्टछाप की स्थापना 1565 में गोस्वामी विट्ठलनाथ द्वारा हुई थी।

🌺 Trick :-  वल्लभ की कुभसूर का परमानन्द प्राप्त करने के लिए कृष्ण की भक्ति मे लीन है।

◆ वल्लभाचार्य के शिष्यः-
(1)कुंभनदास(उम्र मे सबसे बडे़)

(2)सूरदास(प्रसिद्धि मे सबसे बडे़)

(3)परमानन्द((सूरदास के बाद वात्सल्य के सबसे बडे़ कवि)

(4) कृष्णदास (सर्वाधिक बुद्धिमान)

💝 संकलनकर्ता :- पूरणमल कुम्हार

🌺 Trick :- विट्ठल के सदस्यो मे चतुरनन्द है जो छीत के गोविन्द की भक्ति करता है।

◆ विट्ठलदास के शिष्यः-
(5) चतुर्भुजदास(कुंभदास के पुत्र)

(6) नन्ददास(उम्र मे सबसे छोटे एवं

(7) छीत स्वामी(सर्वाधिक उदण्ड़)

(8) गोविन्ददास(सबसे बडे़ संगीतज्ञ) राजस्थान के कवि

78. निम्नलिखित में सगुण: कृष्ण भक्ति शाखा का कवि नहीं हैं:(EMRS PGT 2023)

(A) कृष्णदास

(B) कुंभनदास

(C) कृपाराम✅

(D) नंददास

💐 कृपाराम :- रीतिकाल के कवि

79. निम्नलिखित में से केशवदास की रचना नहीं है:
(EMRS PGT 2023)

(A) कविप्रिया

(B) रसिकप्रिया

(C) हनुमान्नाटक✅

(D) रससागर

💐 हनुमान्नाटक :- हृदयराम की रचना

80. निम्नलिखित में से कौन-सी रचना देव की नहीं है?(EMRS PGT 2023)

(A) अष्टयाम

(B) श्रृंगारनिर्णय✅

(C) प्रेमतरंग

(4) भावविलास

💐 श्रृंगारनिर्णय :- भिखारी दास की रचना

81. निम्नलिखित में निर्गुण ज्ञानाश्रयी शाखा का कवि नहीं हैं: (EMRS PGT 2023)

(A) धर्मदास

(B) गुरुनानक

(C) नाभादास✅

(D) दादू दयाल

82. निम्नलिखित में हरिवंशराय ‘बच्चन’ की रचना नहीं है : (EMRS PGT 2023)

(A) मिलन यामिनी

(B) निशा निमंत्रण

(C) परिमल✅

(D) एकांत संगीत

💐परिमल :- निराला की रचना

83. ‘हिन्दी नवरत्न’ नामक समालोचनात्मक ग्रंथ के रचनाकार हैं:(EMRS PGT 2023)

(A) जार्ज ग्रियर्सन

(B) महावीर प्रसाद द्विवेदी

(C) भारतेन्दु हरिश्चंद्र

(D) मिश्रबंधु✅

84. निम्नलिखित में से कौन-सा निबंध अध्यापक पूर्णसिंह द्वारा लिखित नहीं है ?(EMRS PGT 2023)

(A) मजदूरी और प्रेम

(B) सच्ची वीरता

(C) फिर निराश क्यों ?✅

(D) आचरण की सभ्यता

85. निम्नलिखित में असंगत युग्म है:(EMRS PGT 2023)

(A) संयोगिता स्वयंवर – लाला श्रीनिवास दास

(B) हिन्दी कालिदास की आलोचना – भारतेन्दु हरिश्चंद्र✅

(C)  कालिदास की निरंकुशता – महावीर प्रसाद द्विवेदी

(D) आनंद कादंबिनी –  बदरीनारायण चौधरी

86. निम्नलिखित कृति और कृतिकार के युग्मों में असंगत है:(EMRS PGT 2023)

(A) छायावाद – नामवर सिंह

(B) यथार्थवाद – शिवकुमार मिश्श्र

(C) कामायनी का पुनर्मूल्यांकन – मुक्तिबोध

(D) प्रगतिवाद – शिवदान सिंह चौहान

87. महावीर प्रसाद द्विवेदी ने ‘सरस्वती’ पत्रिका का संपादन कार्य आरंभ किया था :(EMRS PGT 2023)

(A) सन् 1901 ई. में

(B) सन् 1902 ई. में

(C) सन् 1903 ई. में✅

(D) सन् 1900 ई. में

★  संपादक मंडल में :- (13 नवम्बर,1899 ई. को संपादक मंडल गठित हुआ)

• राधाकृष्ण दास

• कीर्ति प्रसाद खत्री

• जगन्नाथ प्रसाद ‘रत्नाकर

• किशोरी लाल गोस्वामी

•  श्यामसुंदर दास

★ प्रथम वर्ष ( जनवरी,1900 ई.) :-  सम्पादक मण्डल के द्वारा

★ दूसरे वर्ष (1901 ई.) और तीसरे वर्ष (1902 ई.) सरस्वती का सम्पादन :- श्यामसुंदर दास

★ चौथे वर्ष (1903 ई.) से सरस्वती का सम्पादन :-   आ.महावीर प्रसाद द्विवेदी के द्वारा

★ प्रथम तीन वर्ष इलाहाबाद से प्रकाशित हुआ।

★ चौथे  वर्ष में इसके  सम्पादन आ.महावीर प्रसाद द्विवेदी होने के बाद से काशी से प्रकाशित होने लगा।

★ आ. महावीर प्रसाद द्विवेदी ने सरस्वती का संपादन किया :-  1903 ई.  से 1920 ई. तक

88. रचना और रचनाकारों में सुमेलित नहीं है:
(EMRS PGT 2023)
(A) अर्द्धनारीश्वर – अज्ञेय✅

(A) साहित्य और संस्कृति – रामविलास शर्मा

(C) पगडंडियों का जमाना – हरिशंकर परसाई

(D) श्रृंखला की कड़ियाँ – महादेवी वर्मा

89. निम्नलिखित में प्रसिद्ध मार्क्सवादी आलोचक नहीं है:(EMRS PGT 2023)

(A) रामविलास शर्मा

(B) रामस्वरुप चतुर्वेदी✅

(C) नामवर सिंह

(D) शिवदान सिंह चौहान

90. “चिर दग्ध दुखी यह वसुधा आलोक माँगती, तब भी। तुम तुहिन बरस दो कन-कन, यह पगली सोये तब भी।” प्रस्तुत पंक्तियों के रचयिता हैं:
(EMRS PGT 2023)
(A) सूर्यकांत त्रिपाठी निराला

(B) सुमित्रानंदन पंत

(C) महादेवी वर्मा

(D) जयशंकर प्रसाद✅

91. ‘तुमको पीड़ा में ढूँड़ा तुमको ढूँड़ेगी पीड़ा’
पंक्तियों के रचनाकार हैं :(EMRS PGT 2023)

(A) महादेवी वर्मा✅

(B) सुमित्रानंदन पंत

(C) सूर्यकांत त्रिपाठी निराला

(D) रामधारी सिंह दिनकर

92.  ‘कहानी नयी कहानी’ पुस्तक के लेखक हैं:
(EMRS PGT 2023)

(A) नामवर सिंह✅

(B) राजेन्द्र यादव

(C) निर्मल वर्मा

(D) कमलेश्वर

93. निम्नलिखित में से किसको नामवर सिंह ने नयी कहानी की पहली कृति माना है?(EMRS PGT 2023)

(A) परिंदे✅

(B) जहाँ लक्ष्मी कैद है

(C) जिंदगी और जोंक

(D)  खोई हुई दिशाएँ

94. निम्नलिखित में से कौन-सी रचना शेखर जोशी की नहीं है?(EMRS PGT 2023)

(A) कोसी का घटवार

(B) कर्मनाशा की हार✅

(C) समर्पण

(D) दाज्यू

95. पिंजरे की मैना’ आत्मकथा की लेखिका हैं:
(EMRS PGT 2023)
(A) मृदुला गर्ग

(B) चंद्रकिरण सीनरेक्सा✅

(C) प्रभा खेतान

(D) चित्रा मुद्गल

96.  निम्नलिखित में से ‘गोदान’ की नारी पात्र है
(EMRS PGT 2023)
(A) बासंती

(B) शोभा✅

(C) शहजादी

(D) जालपा

97.  निम्नलिखित में राहुल सांकृत्यायन का संस्मरण नहीं है :(EMRS PGT 2023)

(A) बचपन की स्मृतियाँ

(B) असहयोग के मेरे यात्री

(C) जिनका मैं कृतज्ञ हूँ

(D) बीसवीं सदी का बाणभट्ट✅

98. निम्नलिखित में असंगत युग्म है:
(EMRS PGT 2023)
(A) भूरी-भूरी खाक धूल- मुक्तिबोध

(B) इतने पास अपने – कुंवरनारायण✅

(C) गीतिका – निराला

(D) आत्महत्या के विरुद्ध – रघुवीर सहाय

99.  ‘चाँद का मुँह टेढ़ा है’ कृति के रचनाकार हैं:
(EMRS PGT 2023)
(A) अज्ञेय

(B) मुक्तिबोध ✅

(C)  नागार्जुन

(D)  त्रिलोचन

100. निम्नलिखित में रचना और रचनाकार की दृष्टि से कौनसे विकल्प सुमेलित नहीं है?
(EMRS PGT 2023)

(A) उदयभानचरित – इंशाअल्ला खाँ

(B) मुंतखबुत्तवारीख – मुंशी सदासुखलाल ‘नियाज़’

(C) पद्मपुराण – सदलमिश्र ✅

(D) प्रेमसागर – लल्लूलाल

 

सौन्दर्य की  नदी नर्मदा यात्रा वृत्तांत के बहुविकल्पीय  150 प्रश्न 

200 बहुविकल्पीय परीक्षा में आये हुये प्रश्न

पार्ट – 1

पार्ट – 2

अंधेरे में कविता के वन लाईनर प्रश्न

हिंदी साहित्य के वन लाईनर 500 प्रश्न

आदिकाल के वन लाईनर प्रश्न

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

error: Content is protected !!