रचनाये एवं प्रकाशन वर्ष

रेवंतगिरिरास का परिचय(Revantagiriras ka parichay)

🌺 रेवंतगिरिरास का परिचय 🌺 • रचयिता – विजयसेन सूरि • रचनाकाल – संवत् 1288 के लगभग (माता प्रसाद गुप्त के अनुसार ) • इसकी रचना सोरठ प्रदेश में भी हुई थी। • कुल छन्द – 62 छन्द • विषय – इसमें तीर्थंकर नेमिनाथ की प्रतिमा तथा रेवंतगिरी तीर्थ का वर्णन है ।यात्रा तथा मूर्ति की स्थापना घटनाओं पर आधारित ...

Read More »

स्थूलिभद्ररास का परिचय( Sthulibhadras ka parichay)

🌺स्थूलिभद्ररास का परिचय🌺 * जिनधर्मसूरी द्वारा रचित * रचना काल – 1209 ईस्वी * विषय – स्थूलिभद्र और कोशा वेश्या के संबंधित घटनाएं। * कोशा वेश्या के पास भोगलिप्सा रहने वाले स्थूलिभद्र को कवि ने जैन धर्म की दीक्षा लेने के लिए बाद मोक्ष का अधिकारी सिद्ध किया है। 👉 पढ़ना जारी रखने के लिए यहाँ क्लिक करे। 👉 Pdf ...

Read More »

चंदनबाला रास का परिचय(Chandanbala Ras ka parichay)

🌺चंदनबाला रास का परिचय🌺 * रचयिता :- आसगु कवि * रचना समय – 1200ई. * रचना स्थान – जालौर निकट सहजिगपुरी, पश्चिमी राजस्थान (माता प्रसाद गुप्त के अनुसार ) * लघु खण्डकाव्य • कुल छन्द – 35 छन्द * कथा- नायिका चंदनबाला( चंपा नगरी के राजा दधिवाहन की पुत्री ) * प्रमुख रस – करुण रस * सम्पादन – राजस्थान ...

Read More »

भरतेश्वर बाहुबली रास का परिचय(Bharateshwar Bahubali Raas ka parichay)

🌺 भरतेश्वर बाहुबली रास का परिचय 🌺 * रचयिता – शालिभद्रसुरी (भीमदेव द्वितीय के समय पाटण में हुए थे।) * रचना समय – 1185ई. में * रचना तिथि – संवत् 1231(मुनिजिन विजय के अनुसार) * 205 छन्दों में रचित। * खंडकाव्य * वीर रस प्रधान और अंत में शांत रस * 203 कड़ियां में रचित। * शालिभद्रसुरी पाटन में निवास ...

Read More »

महापुराण का परिचय [Mahapuran ka parichay]

🌺 महापुराण का परिचय 🌺 •अपभ्रंश भाषा के महान कवि पुष्पदंत द्वारा रचित • विषय – दिगंबर जैन संप्रदाय के 24 तीर्थंकरों, 12 चक्रवर्ती,नौ वासुदेव तथा नौ प्रति वासुदेव कृतियों की कथा का प्रस्तुत की गयी है । • महापुराण में आदि पुराण और उत्तर पुराण आते है। • महापुराण का प्रथम खण्ड – आदिपुराण • महापुराण का द्वितीय खण्ड ...

Read More »

अपभ्रंश साहित्य का प्रथम महाकाव्य पउमचरिउ का परिचय(Apabhramsha sahity ka pratham mahakavy Poomachariyu ka paricha)

🌺अपभ्रंश साहित्य का प्रथम महाकाव्य पउमचरिउ का परिचय 🌺 • रचयिता – महाकवि स्वयंभू • अपभ्रंश साहित्य का अत्यंत प्रसिद्ध एवं प्रथम महाकाव्य। • चरित काव्य। • पांच काण्डों और 90 संधियों में विभाजित है। • पांच काण्डों में विभक्त :- 1. विद्याधर कांड(20 संधियां) 2. अयोध्या कांड (22 संधियां) 3. सुंदरकांड (14 संधियां) 4. युद्ध कांड(21 संधियां) 5. उत्तरकांड ...

Read More »

आचार्य हजारी प्रसाद द्विवेदी के आलोचनात्मक ग्रंथ(Acharya Hazari Prasad Dwivedi ke aalochanatmak granth)

🌺आचार्य हजारी प्रसाद द्विवेदी की प्रमुख आलोचनात्मक कृतियाँ🌺 ◆ सूर साहित्य (1930 ई.) ◆ हिन्दी साहित्य की भूमिका (1940 ई.) ◆ कबीर उदात्त (1941 ई.) ◆ हिन्दी साहित्य का आदिकाल (1952 ई.) ◆ सहज साधना (1963 ई.) ◆ कालिदास की लालित्य योजना (1965 ई.) ◆ मध्यकालीन बोध का स्वरूप (1970 ई.)   🌺हजारी प्रसाद द्विवेदी भारतीय साहित्य के प्रसिद्ध और ...

Read More »

नंददुलारे वाजपेयी के आलोचनात्मक ग्रंथ(nandadulare vajapeyi ke aalochanatmak granth)

⭐ नंददुलारे वाजपेयी के आलोचनात्मक ग्रंथ⭐ ◆ जयशंकर प्रसाद (1940 ई.)   ◆ साहित्य : बीसवीं शताब्दी (1942 ई.)   ◆ प्रेमचंद, आधुनिक साहित्य (1950 ई.)   ◆ महाकवि सूरदास (1952 ई.)   ◆ नया साहित्य : नये प्रश्न (1955 ई.)   ◆ महाकवि निराला (1965 ई.)   ◆ नयी कविता (1973 ई.)   ◆ कवि सुमित्रानंदन पंत (1976 ई.) ...

Read More »

कठगुलाब[kathagulab] उपन्यास मृदुला गर्ग

कठगुलाब[kathagulab]

⭐⭐ कठगुलाब ⭐⭐ ◆ कठगुलाब का अर्थ :-एक प्रकार का जंगली गुलाब जिसके फूल छोटे-छोटे होते हैं ◆ कठगुलाब उपन्यास (1996ई.) :- मृदुला गर्ग ★ पात्र :– स्मिता, मारियान, नर्मदा, असीमा और विपिन  ★ यह उपन्यास समाज में व्याप्त नारी के शोषण, अन्याय तथा स्त्रियों के विभिन्न संघर्षो को प्रस्तुत करता है।   👉 पढ़ना जारी रखने के लिए यहाँ ...

Read More »

हिंदी साहित्य और सिनेमा के संबंध[hindi sahity aur sinema ke sambandh]

हिंदी साहित्य और सिनेमा के संबंध[hindi sahity aur sinema ke sambandh]

⭐हिंदी साहित्य और सिनेमा के संबंध ⭐   ◆ निर्देशक नानूभाई देसाई ने सेवासदन उपन्यास पर बाजारे हुस्न’ नाम से फिल्म का निर्माण किया। ◆ प्रेमचंद ने ‘अंजता सिनेटोन’ के लिए कहानी लिखी तथा उस पर ‘गरीब मजदूर’ ‘मिल मजदूर’, ‘सेठ की बेटी’ आदि नामों से फिल्म प्रदर्शित हुई। मिल मजदूर मोहन भावनानी के निर्देशन में बनी। ◆ 1941 में ...

Read More »

हिन्दी साहित्य की मिलती जुलती रचनाएँ[hindi sahity ki milati julati rachanaen]

हिन्दी साहित्य की मिलती जुलती रचनाएँ

हिन्दी साहित्य की मिलती जुलती रचनाएँ ⭐सेब और देव कहानी (नव.1937) :- अज्ञेय ◆ सेब कहानी(1955) :- रघुवीर सहाय ⭐ ‘अकाल’ नाम से कविताएं 💐 ◆ अकाल :- रघुवीर सहाय ◆ अकाल-दर्शन :- धूमिल ◆ अकाल और उसके बाद :- नागार्जुन ◆ अकाल मृत्यु :- बद्री नारायण ◆ अकाल का पहला दिन :- राजकमल चौधरी ◆ अकाल कुतरता नहीं :- ...

Read More »

विद्यानिवास मिश्र के निबन्ध संग्रह[ vidyanivas mishr ke nibandh sangrah]

विद्यानिवास मिश्र का निबंध संग्रह

⭐ विद्यानिवास मिश्र के निबन्ध संग्रह⭐ ◆ छितवन की छाँह (1953 ई.) ◆ हल्दी दूब (1955 ई.) ◆ कदम की फूली डाल (1956 ई.) ◆ तुम चन्दन हम पानी (1957 ई.) ◆ आँगन का पंछी और बनजारा मन (1963 ई.) ◆ मैंने सिल पहुॅचाई (1966 ई.) ◆ बसंत आ गया पर कोई उत्कंठा नहीं (1972 ई.) ◆ मेरे राम का मुकुट ...

Read More »

कहानियों में गांधी विचारधारा[kahaniyon mein Gandhi vichardhara]

हिंदी साहित्य में गांधीवादी विचारधारा

⭐⭐ कहानियों में गांधी विचारधारा ⭐⭐ ⭐ प्रेमचंद की कहानियां :- ◆ शंखनाद ◆ बेटी का धन ◆ माता का हृदय ◆ ईश्वरी न्याय ◆ बिक्री के रुपये ◆ शुद्धा ⭐ सुदर्शन की कहानियां:- ◆ अमरीकन रमणी ◆ पंथ की प्रतिष्ठा ◆ सत्य मार्ग ◆ अंधेरे में ◆ कैदी ◆ सुभद्रा का उपहास ⭐ विश्वाम्भरशर्मा कौशिक जी की कहानियां:- ◆ ...

Read More »

जैनेन्द्र की रचनाएं[jainendr kee rachanaen]

जैनेन्द्र की रचनाएं

◆ जैनेन्द्र की रचनाएं ◆ ◆ उपन्यास :- ●  परख (1929) ● सुनीता (1935) ● त्यागपत्र (1937) ● कल्याणी (1939) ● सुखदा (1952) ● विवर्त (1953) ● व्यतीत(1953) ● जयवर्धन (1956) ● मुक्तिबोध (1966) ● अनन्तर(1968) ● अनामस्वामी(1974) ● दशार्क (1985)   💐 कहानी संग्रह💐 ★ खेल(1928 ई.) :- प्रथम कहानी ◆ फाँसी (1929ई.) – प्रथम कहानी संग्रह【कुल कहानियां- 3】 ◆ ...

Read More »

33वॉ सरस्वती सम्मान 2023,प्रभा वर्मा को [33vaan sarasvatee sammaan 2023,prabha varma ko ]

◆ 33वें सरस्वती सम्मान 2023 :- प्रसिद्ध कवि और साहित्यकार प्रभा वर्मा को उनके उपन्यास “रौद्र सात्विकम” के लिए ◆ रौद्र सात्विकम उपन्यास ◆ ★ मलयालम भाषा में ★ काव्यात्मक छंद में लिखा गया ★ यह उपन्यास सत्ता और राजनीति, व्यक्ति और राज्य, तथा कला और सत्ता के बीच के संघर्ष की जांच करता है। ★ प्रकाशित – 2022 में ...

Read More »
error: Content is protected !!